What is a mutual fund? How to Invest in Mutual Funds?(म्यूच्यूअल फंड क्या है ? कैसे इन्वेस्ट करें म्यूचुअल फंड में?)

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताएंगे म्युचुअल फंड से जुड़ी कुछ जरूरी बातें। जो आपके जिंदगी में बहुत काम आएगी। अगर आप किसी चीज में इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं तो दोस्तों आज हम आपसे बात करेंगे म्युचुअल फंड के बारे में। जिसमें हम आपको बताएंगे कि म्युचुअल फंड क्या है और म्यूच्यूअल फंड में कैसे इन्वेस्टमेंट करनी है और म्यूच्यूअल फंड में कितना रिस्क है और कितना फायदा है।

म्यूच्यूअल फंड क्या है ?

म्युचुअल फंड एक तरह का टर्म डिपॉजिट है। जिसमें हम एक बड़ी रकम का इन्वेस्टमेंट करते हैं। लेकिन यह इन्वेस्टमेंट हम एक साथ करते हैं। ऐसा नहीं है कि हम टुकड़ों में पैसा जमा करते हैं। इसमें हम इन सारे जमा करे हुए फंड को हम लोग म्युचुअल फंड कहते हैं।

म्यूच्यूअल फंड वैसे तो एक तरह से एक टर्म है जिसके जरिए हम लोग बाजार में चल रही कंपनियों के ऊपर अपने फंड को इन्वेस्ट कर सकते हैं। और उस कंपनी का शेयर खरीद सकते हैं। म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टमेंट पर निवेशकों के जरिए लगाया जा रहे धन का रिटर्न और इन्वेस्टमेंट रिस्क निर्धारित किया जाता है।

म्यूच्यूअल फंड की संरचना

म्यूच्यूअल फण्ड की बात करें तो इसमें निम्न प्रकार के भाग हैं :

  1. स्पॉन्सर – इसमें एक आदमी स्पॉन्सर होता है जो कि एक जगह पर 40 परसेंट कम से कम इन्वेस्ट करता है।
  1. ट्रस्ट – म्युचुअल फंड को एक तरह से ट्रस्ट के रूप में रखा जाता है वरिष्ठ ट्रस्ट के दस्तावेज पगारा भारतीय पंजीकरण अधिनियम 1960 में आते हैं और पंजीकृत होते हैं।
  2. ट्रस्टी – इसमें एक मुख्य द्वार पर कोई कॉर्पोरेट बॉडी होती है जिसका मुख्य काम होल्डर के लाभ को संभाल कर रखना है।
  3. ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी – इनका चुनाव ट्रस्टी द्वारा होता है।
  4. संरक्षक – इसमें ट्रस्ट कंपनी बैंक की ऑफर किसी और आर्थिक कंपनी से या म्यूचुअल फंड के निवेशकों के इन्वेस्टमेंट को संभाल कर रखना है।
  5. रजिस्ट्रार और ट्रांसफर एजेंट

म्यूच्यूअल फंड में फायदा या नुकसान :

तो आप लोगों ने जान लिया होगा कि म्यूच्यूअल फंड क्या होता है। और म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टमेंट कैसे करी जाती है। और साथ ही साथ हमने ऊपर यह भी बताया है कि, म्यूच्यूअल फंड में किस प्रकार का रिस्क रहता है। और वह रिस्क किस चीज पर निर्धारित किया जाता है। म्यूच्यूअल फंड में कितना फायदा होता है और कब फायदा होता है। यह सब कुछ हमने ऊपर आप लोगों को समझा दिया है।

हम आपको यह सलाह देना चाहेंगे कि आप बताई गई सारी बातों को ध्यान में रखकर सभी म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टमेंट करें। म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टमेंट करना कोई आम बात नहीं है। म्यूचुअल फंड में इन्वेस्टमेंट के लिए अच्छी खासी बाजार और हिसाब-किताब की नॉलेज होना जरूरी है। तो हम आपको यह सलाह देंगे की आप जब भी म्यूचल फंड में इन्वेस्टमेंट करें कृपया कोई ऐसे दोस्त या एजेंट से सलाह जरूर लेले जिसको फ्यूचर फंड के बारे में अच्छी नॉलेज हो। और जिसने पहले म्यूचुअल फंड में इन्वेस्टमेंट किया हो।

हर सिक्के के दो पहलू होते हैं उसी तरह म्यूचुअल फंड के भी कुछ फायदे हैं और साथ ही साथ कुछ नुकसान भी है। तो अपनी समझदारी से आप इसमें इन्वेस्टमेंट करिए और म्युचुअल फंड का फायदा लीजिए।

News Reporter
This article has been shared by Admin who is the founder of Tools Tutorial. His interests and hobbies are traveling, listening music, internet surfing, blog writing and watching movies.